Posted in poetry, Young girls

मैं ही कहानी

मैं उस पार की कहानी हुं.

हर गलत राह मुड़ कर देखी है,

हर गलत चाह कर के देखी है,

फ़िर सही गलत की परिभाषा भी,

तोड़ मडोड कर देखी है.

हर सरहद कस्बे कूंचे में,

मैं छुपी हुई मनमानी हुं,

मैं उस पार की कहानी हुं.

Source:pinterest

बिखरे फैले काजल में 

सपनों का रंग मिलाया है.

और होठों पर कुछ उम्मीदों को

गुलाबी सा सजाया है.

झुम्कों में तेवर लटका के,

ओड़नी में नखरे सिलवा के,

हर सुर ताल पर थिरकी हुं,

हर सुर ताल से अंजानी हुं.

मैं उस पार की कहानी हुं.

Source: firstavenuestories

इक शर्त लगी है जी लेने की,

इक दांव पे सान्सें रखी हैं.

इक होश नहीं है सन्नाटो का,

इक शोर में बातें रखी हैं.

जो ना जिउं तो वही कथा हुं

हर बार जो आनी जानी हुं..

मैं उस पार की कहानी हुं.

Source: punjabitribune.com
Advertisements

Author:

Love-struck,people-struck,fashion-struck,bollywood-struck,winter-struck,chicken-struck,poetry-struck,earrings-struck 20-something. An accidental biologist,I find solace in stories of any kind. Books,Hindi songs, clothes, ideas,relations..all that makes up my existence will travel up to this blog. Chance are many can relate to me. For those who can't,remember I love stories. You could be a story.

5 thoughts on “मैं ही कहानी

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s